मुंबई और आसपास के इलाकों में मूसलाधार बारिश,जल-जमाव रेल पटरियां पानी में डूबी

0
183

मुंबई और आसपास के इलाकों में मूसलाधार बारिश होने के कारण आज कई जगहों पर जल-जमाव हो गया और कुछ मार्गों पर रेल पटरियां पानी में डूब गईं।बारिश के कारण परेल, धारावी , माटुंगा और मुंबई में किंग सर्किल और दिवा, डोम्बिवली, कल्याण और अंबरनाथ सहित पड़ोस के ठाणे जिले के शहरों में बाढ़ जैसी स्थिति है। भारी बारिश के कारण ट्रेनों और यातायात पर भी असर पड़ रहा है। शिक्षा मंत्री ने सोमवार को स्कूल-कॉलेजों में छुट्टी का का ऐलान किया है।

भारी बारिश के चलते जहां वेस्‍टर्न लाइन 5 से 7 मिनट, वहीं सेंट्रल और हार्बर लाइन 10 से 15 मिनट लेट चल रही है। वहीं पश्चिम रेलवे ने इस बाबत एक बयान जारी कर कहा, ‘मुंबई में बीती रात से जारी भारी बारिश के कारण नालासोपारा में रेलवे ट्रैक पानी से भर गया है। इस कारण अप लाइन पर ट्रेनों का परिचालन रोक दिया गया है, जबकि अन्य तीन लाइनों पर भी ट्रेनें काफी धीमी चल रही हैं
मौसम विभाग ने महानगर और पड़ोसी ठाणे, पालघर और रायगढ़ जिलों में सोमवार को दोपहर बाद भी‘‘भारी से भारी बारिश’ की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग का कहना है कि अगले 4 दिनों तक मुंबई, कोंकण क्षेत्र और गोवा को मूसलाधार बारिश से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।

मौसम विभाग के मुताबिक सोमवार सुबह 8:30 बजे तक 24 घंटों में कोलाबा 170.6 मिलीमीटर बारिश रेकॉर्ड की गई जो इस सीजन की सबसे अधिक है। उधर दहाणु में सुबह 5:30 बजे तक 308 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विभाग ने मुंबई में 2005 जैसी बारिश होने की आशंका जताई है। 2005 में हुई भारी बारिश ने शहर को थमने पर मजबूर कर दिया था और आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया था

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here