वो मजबूर लेकिन हम मजबूत सरकार चाहते है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

0
148
वो मजबूर लेकिन हम मजबूत सरकार चाहते है दिल्ली के रामलीला मैदान में चल रही बीजेपी नेशनल काउंसिल की बैठक का आज यानी शनिवार का दूसरा दिन है. आने वाले लोकसभा चुनाव पर मंथन के लिए यह सम्मेलन हो रहा है. प्रधानमंत्री ने आज यहां देश भर से जुटे बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया, लोकसभा चुनाव से पहले देश भर से जुटे लगभग 12 हजार कार्यकर्ताओं के साथ इस बैठक को चुनावी तैयारियों के मद्देनजर महत्वपूर्ण माना जा रहा है. प्रधानमन्त्री ने कहा की यह राष्ट्रीय परिषद की पहली बैठक है जो अटल जी के बिना हो रही है. वो आज जहां से भी हमें देख रहे होंगे, उन्हें अपने बच्चों की इस ऊर्जा औ राष्ट्र के प्रति समर्पण को देखकर संतोष हो रहा होगा. मोदी जी ने कहा की पिछली सरकार में घोटाले भरे पड़े थे, हम पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है, पिछले साढ़े 4 साल में बीजेपी के नेतृत्व में जिस तरह हमारी सरकारें चली है, उससे जनमानस में यह भाव स्थापित हुआ है कि देश को ऊंचाई पर अगर कोई दल ले जा सकता है तो वह सिर्फ और सिर्फ बीजेपी है. राम मंदिर पर प्रधानमन्त्री बोले की अयोध्या विषय में कांग्रेस अपने वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस नहीं चाहती की अयोध्या विषय का हल आए. कांग्रेस का ये रवैया किसी को भूलना नहीं चाहिए. मोदी ने कहा की उन्होंने कहा, आज विपक्ष को सीबीआई स्वीकार नहीं है, कल कोई दूसरी संस्था स्वीकार नहीं होगी. आर्मी, पुलिस, सुप्रीम कोर्ट, इलेक्शन कमीशन, सीएजी, सब गलत हैं, लेकिन एकमात्र वही सही हैंरधानमन्त्री ने कहा की संगठन के संस्कार से अगर हम तपे नहीं होते तो दूसरों की मीठी मीठी बातों से हम फिसल चुके होते. पार्टी परंपराओं को अपने जीवन में ढालकर, अनुशासन और लाखों कार्यकर्ताओं के तप व त्याग से आज हम यहां पहुंचे हैं.

वो मजबूर लेकिन हम मजबूत सरकार चाहते है
दिल्ली के रामलीला मैदान में चल रही बीजेपी नेशनल काउंसिल की बैठक का आज यानी शनिवार का दूसरा दिन है. आने वाले लोकसभा चुनाव पर मंथन के लिए यह सम्मेलन हो रहा है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज यहां देश भर से जुटे बीजेपी नेताओं और कार्यकर्ताओं को जीत का मंत्र दिया, लोकसभा चुनाव से पहले देश भर से जुटे लगभग 12 हजार कार्यकर्ताओं के साथ इस बैठक को चुनावी तैयारियों के मद्देनजर महत्वपूर्ण माना जा रहा है.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह राष्ट्रीय परिषद की पहली बैठक है जो अटल जी के बिना हो रही है. वो आज जहां से भी हमें देख रहे होंगे, उन्हें अपने बच्चों की इस ऊर्जा औ राष्ट्र के प्रति समर्पण को देखकर संतोष हो रहा होगा.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पिछली सरकार में घोटाले भरे पड़े थे, हम पर भ्रष्टाचार का एक भी आरोप नहीं है, पिछले साढ़े 4 साल में बीजेपी के नेतृत्व में जिस तरह हमारी सरकारें चली है, उससे जनमानस में यह भाव स्थापित हुआ है कि देश को ऊंचाई पर अगर कोई दल ले जा सकता है तो वह सिर्फ और सिर्फ बीजेपी है.
राम मंदिर पर प्रधानमन्त्री बोले की अयोध्या विषय में कांग्रेस अपने वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने की कोशिश कर रही है. कांग्रेस नहीं चाहती की अयोध्या विषय का हल आए. कांग्रेस का ये रवैया किसी को भूलना नहीं चाहिए.
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज विपक्ष को सीबीआई स्वीकार नहीं है, कल कोई दूसरी संस्था स्वीकार नहीं होगी. आर्मी, पुलिस, सुप्रीम कोर्ट, इलेक्शन कमीशन, सीएजी, सब गलत हैं, लेकिन एकमात्र वही सही हैंरधानमन्त्री ने कहा की संगठन के संस्कार से अगर हम तपे नहीं होते तो दूसरों की मीठी मीठी बातों से हम फिसल चुके होते. पार्टी परंपराओं को अपने जीवन में ढालकर, अनुशासन और लाखों कार्यकर्ताओं के तप व त्याग से आज हम यहां पहुंचे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here