आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने गोली मारकर खुदकुशी की, सुसाइड नोट

जिंदगी के तनाव से परेशान हो गया हूं

0
198

 सुसाइड नोट में लिखा-

“जिंदगी के तनाव से परेशान हो गया हूं”

जिस वक्त भय्यू जी महाराज ने खुद को गोली मारी उनकी मां और पत्नी घर में ही मौजूद थीं. एक सहयोगी की मदद से दरवाजा तोड़ कर बाहर निकाला गया. अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया.

भय्यू महाराज का वास्तविक नाम उदयसिंह देखमुख है। उनका मुख्य आश्रम इंदौर स्थित बापट चौराहे पर है। सदगुरु दत्त धार्मिक ट्रस्ट उनके सानिध्य में संचालित होता है। भय्यू महाराज की पत्नी माधवी का निधन हो गया। भय्यू महाराज की एक बेटी कुहू है, जो पूणे में पढ़ाई कर रही है।

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री ने जब अपनी कैबिनेट बनाई तो उसमें भय्यूजी महाराज को उन्होनें राज्य मंत्री का दर्जा दिया था, जिसे भय्यूजी महाराज ने ठुकरा दिया था। भय्यूजी महाराज का गृहस्थी से दूर आध्यात्मिकता की तरफ ज्यादा रुझान रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here