डेरा प्रमुख राम रहीम पर चल रहे रणजीत हत्या मामले में सीबीआई कोर्ट में हुई सुनवाई

0
124

डेरा प्रमुख राम रहीम पर चल रहे रणजीत हत्या मामले में सीबीआई कोर्ट में हुई सुनवाई

मामले में आरोपी राम रहीम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से कोर्ट में हुए पेश मामले की अगली सुनवाई 8 मई को होगी

साध्वी यौन शोषण केस में सजा काट रहे राम रहीम की मुश्किलें और भी बढ़ सकती हैं… पत्रकार रामचंद्र छत्रपति मर्डर केस में आज खट्टा सिंह ने सीबीआई कोर्ट में गवाही दी…और 8 मई को रंजीत मर्डर केस में भी गवाही होगी… खट्टा सिंह की गवाही के बाद पीड़ितों को फिर से न्याय की उम्मीद जगी है…

शनिवार को पत्रकार रामचंद्र छत्रपति हत्याकांड मामले में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट में सुनवाई हुई…. लंबी कानूनी लड़ाई के बाद इस मामले में राम रहीम के पूर्व ड्राइवर खट्टा सिंह की गवाही हुई… हाईकोर्ट ने खट्टा सिंह को दोबारा गवाही की इजाजत दी थी… जिसके खिलाफ राम रहीम की याचिका सुप्रीम कोर्ट भी पहुंची लेकिन देश की सबसे बड़ी अदालत ने उसे खारिज कर दिया और शनिवार को छत्रपति मर्डर केस में खट्टा सिंह ने गवाही दी…

नवकिरण सिंह, खट्टा सिंह के वकील

पत्रकार राम चंद्र छतरपति हत्याकांड केस में पंचकूला की सीबीआई कोर्ट में एहम गवाह खट्टा सिंह ने अपने बयान दर्ज करवाए। खट्टा सिंह ने कहा की उन्होंने कोर्ट से माफ़ी मांगी के पहले उन्होंने इसलिए गवाही नहीं दी थी क्योंकि उनकी जान को खतरा था पर डेरा मुखी को सज़ा होने के बाद उनकी कानून के प्रति आस्था जागी है. खट्टा सिंह ने कहा की उनको डराने की कोशिश की जा रही है पर वो नहीं डरेंगे और सच का साथ देंगे। उनके घर के बाहर शुक्रवार को एक गाड़ी बार बार घूम रही थी और इसकी शिकायत खट्टा सिंह ने पुलिस को भी दी थी. वहीँ सीबीआई कोर्ट ने पंचकूला और मोहाली पुलिस को निर्देश दिए हैं की खट्टा सिंह के सुरक्षा के लिए कोई ढील न बरती जाये। सीबीआई कोर्ट में रणजीत सिंह हत्याकांड का जो केस चल रहा है उसकी तारीख 8 मई की पड़ी है और उस दिन खट्टा सिंह रणजीत हत्याकांड में भी गवाही दे सकते हैं.

खट्टा सिंह के गवाही के मामले में बोलते हुए रामचंद्र छत्रपति के बेटे अंशुल छत्रपति अंशुल छत्रपति ने कहा छत्रपति हत्या मामले में सीबीआई ने खट्टा सिंह को विटनेस बनाया था लेकिन कहीं गुरमीत राम रहीम के डर से खट्टा सिंह 2011 में अपने बयानों से मुकर गए थे लेकिन अभी 25 अगस्त को गुरमीत सिंह के खिलाफ फैसला आया और खट्टा सिंह ने अपनी एप्लीकेशन कोर्ट में लगाई कि मुझे दोबारा गवाही का मौका दिया जाए। पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई की और उन्हें गवाही मंजूरी दे दी। उन्होंने बतायाकि सुप्रीम कोर्ट में खट्टा सिंह की गवाही पर राम रहीम ने चैलेंज किया था जिसे सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया। डेरा प्रमुख दोनों याचिका डिसमिस हो गई आज इस मामले में खट्टा सिंह ने अपनी गवाही सीबीआई अदालत में दी दी 8 मई मुकर्रर की गई है क्रॉस एग्जामिनेशन के लिए मर्डर केस में भी खट्टा सिंह की गवाही होनी है उन्होंने कहाकि 8 मई को खट्टा सिंह की रंजीत मर्डर मामले में भी गवाही होगी , जिसके बाद फैसला आएगा। छत्रपति के बेटे अंशुल ने कहा जो कॉन्सपिरेसी डेरे के अंदर हुई थी और उनके पिता रामचंद्र छत्रपति को मारने के मामले में उसका मुख्य गवाह खट्टा सिंह था और मौके का जवाह था। खट्टा सिंह ने सीबीआई को बताया था कि जब 23 अक्टूबर 2002 को जब बह जालंधर से सत्संग से वापस गए और सिरसा जाते ही कृष्ण लाल ने डेरा प्रमुख गुरमीत राम रहीम को अखबार दिखाया जिसे देखते ही गुरमीत राम रहीम तिलमिला गया। राम रहीम ने कृष्ण लाल , निर्मल सिंह और कुलदीप सिंह को निर्देश दिया और छत्रपति को मौत के घाट उतार दिया गया और इसी को लेकर आज खट्टा सिंह ने अपने बयान दर्ज करवाया और हमें लगता है कि खट्टा सिंह के गवाही के बाद माननीय अदालत से हमें इंसाफ मिलेगा।

अंशुल छत्रपति -रामचंद्र छत्रपति का बेटा


खट्टा सिंह कहाकि जब राम रहीम को सजा हुई तो उन्हें लगा सचाई जनता के सामने लानी चाहिए , खट्टा सिंह ने कोर्ट में बतायाकि है कि छत्रपति ने जो साध्वी योन शोषण की खबर छापी है और उसके बाद उनकी जान चली गयी।

वकील नव किरण ने बतायाकि आज छत्रपति मामले में आज खट्टा सिंह ने अपने बयान नोट करवाएं हैं और 8 तारीख को रंजीत मर्डर में भी अब खट्टा सिंह के बयान दर्ज करवाये जाएंगे उसके बाद क्रॉस एग्जामिनेशन होगा। वकील नवकिरण ने कहाकि खट्टा सिंह ने कहा कि जब-जब बाबा को सजा सुनाई जा चुकी है तो मुझे लगा कि सच्चाई जनता के सामने लानी चाहिए। खट्टा सिंह ने कोर्ट को बताया है कि जो छत्रपति ने खबर छापी है साध्वियों के यौन शोषण को लेकर और उसकी जान चली गई। इस गवाही के बाद गुरमीत राम रहीम क्राइम से डायरेक्टली कनेक्ट होता है। इसके बाद बात साफ है कि राम रहीम ने किसको भेजा था छत्रपति को मारने के लिए और सारी बातों से अवगत करा दिया गया है। अब जल्द ही इस में एक सही फैसला आएगा। वकील नवकिरण में बताया खट्टा सिंह के घर के आस-पास कुछ संधिगध गाड़ियां घूमते देखी गई हैं जिसको लेकर अदालत ने

संबंधित अधिकारियों खट्टा सिंह को कोसिक्योरिटी देने के लिए कहा है

नवकिरण सिंह, खट्टा सिंह के वकील

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here